शुक्रवार, 27 जुलाई 2018

hasya kundaliya

हास्य कुण्डलिया
*
राम देव को देखकर, हनुमत लाल विभोर।
श्याम देव के सँग में, बाल मचाते शोर।।
बाल मचाते शोर, न चाहें योग करें सब।
दाढ़ी-मूँछें बाल, श्याम;  आधी धोती अब।।
तुंदियल गंजे सूट, टाई शू पहन चेककर।
करें योग फट गई, सिलाई छिपे देखकर।।
***
२७.७.२०१८   


कोई टिप्पणी नहीं: