रविवार, 29 जुलाई 2018

सुमेरु छंद

छंद परिचय : २ 
पहचानें इस छंद को, क्या लक्षण?, क्या नाम?
रच पायें तो रचें भी, मिले प्रशंसा-नाम..
*
भोग्य यह संसार हो तुझको नहीं 
त्याज्य भी संसार हो तुझको नहीं 
देह का व्यापार जो भी कर रहा 
गेह का आधार बिसरा मर रहा 
***
टीप: यह १९ मात्रिक छंद सुमेरु छंद है जिस पर उर्दू की बह्र फाइलातुं फाइलातुं फाइलुं (२१२२ २१२२ २१२) आधारित है। 
salil.sanjiv@gmail.com 
#दिव्यनर्मदा 
#हिंदी_ब्लॉगर

कोई टिप्पणी नहीं: