शनिवार, 21 जुलाई 2018

दोहे महिला क्रिकेट के : मिताली राज-हरमनप्रीत

दोहे महिला क्रिकेट के : मिताली राज-हरमनप्रीत 
भारत-आस्ट्रेलिया मैच 
*
राज मिताली राज का, तूफानी रफ़्तार। 
राज कर रही विकेट पर, दौड़ दौड़ हर बार
*
कर किताब से मित्रता, रह तनाव से दूर 
शान्त चित्त खेलो क्रिकेट, मिले वाह भरपूर
*
दस हजार का लक्ष्य ले, खेलो धरकर धीर
खेल नायिका पा सको, नया नाम रन वीर
*
खेलो हर स्ट्रोक तुम, पीटो हँस हर गेंद 
गेंदबाज भयभीत हो, लगा न पाए सेंध
*
चौकों से यारी करो, छक्कों से हो प्यार. 
शतक साथ डेटिंग करो, मीताली सौ बार
*
जा विदेश में बोलिए, हिंदी तब हो गर्व. 
क्या बोला सुन-समझ लें, भारतीय हम सर्व
*
अंग्रेजी का मोह तज, कर हिंदी में बात.
राज दिलों पर राज का, यह मीताली राज
*
हरमन ने की दनादन, चोट, चोट पर चोट.
दीवाली की बम लडी, ज्यों करती विस्फ़ोट
*
सरहद सारी सुरक्षित, दुश्मन फौज फ़रार.
पता पड़ गया आ रही, हरमन करने वार
*
चौको छक्को की करी, लगातार बरसात.
हक्का बक्का रह गए, कंगारू खा मात
*
हरमन पर हर मन फिदा, खूब दिखाया खेल.
कंगारू पीले पड़े, पल में निकला तेल
*
गेंदबाज चकरा गए, भूले सारे दाँव.
पंख उगे हैं गेंद के, या ऊगे हैं पाँव.
या ऊगे हैं पाँव विकेटकीपर को भूली.
आँख मिचौली खेल, भीड़ के हाथों झूली.
हरमन से कर प्रीत,शोट खेल में छा गए.
भूले सारे दाँव, गेंदबाज चकरा गए.

*

कोई टिप्पणी नहीं: