बुधवार, 19 सितंबर 2018

अंतरजाल पर श्रीगणेश के नामों रे गलत अर्थ

ॐ श्री गणेश १०९  नाम
१.बालगणपति : सबसे प्रिय बालक
२. भालचन्द्र : जिसके मस्तक पर चंद्रमा हो
३. बुद्धिनाथ : बुद्धि के भगवान
४. धूम्रवर्ण : धुंए को उड़ाने वाला
५. एकाक्षर : एकल अक्षर
६. एकदन्त : एक दांत वाले
७. गजकर्ण : हाथी की तरह कानवाला
८. गजानन : हाथी के मुख वाले भगवान
९. गजदंत : हाथी के दाँतवाले भगवान
१०. गजवक्र : हाथी की सूंड वाला
११. गजवक्त्र : जिसका हाथी की तरह मुँह है
१२. गणाध्यक्ष : सभी गणों के मालिक
१३. गणपति : सभी गणों के मालिक
१४. गौरीसुत : माता गौरी के पुत्र
१५. लम्बकर्ण : बड़े कान वाले
१६. लम्बोदर : बड़े पेट वाले
१७. महाबल : बलशाली
१८. महागणपति : देवो के देव
१९. महेश्वर : ब्रह्मांड के भगवान
२०. मंगलमूर्त्ति : शुभ कार्य के देव
२१. मूषकवाहन : जिसका सारथी चूहा
२२. निदीश्वरम : धन और निधि के दाता
२३. प्रथमेश्वर : सब के बीच प्रथम आने वाले
२४. शूपकर्ण : बड़े कान वाले
२५. शुभम : सभी शुभ कार्यों के प्रभु
२६. सिद्धिदाता : इच्छाओं और अवसरों के स्वामी
२७. सिद्दिविनायक : सफलता के स्वामी
२८. सुरेश्वरम : देवों के देव
२९. वक्रतुण्ड : घुमावदार सूंड
३०. अखूरथ : जिसका सारथी मूषक है
३१. अलम्पता : अनन्त देव
३२. अमित : अतुलनीय प्रभु
३३. अनन्तचिदरुपम : अनंत और व्यक्ति चेतना
३४. अवनीश : पूरे विश्व के प्रभु
३५. अविघ्न : बाधाओं को हरने वाले
३६. भीम : विशाल
३७. भूपति : धरती के मालिक
३८. भुवनपति : देवों के देव
३९. बुद्धिप्रिय : ज्ञान के दाता
४०. बुद्धिविधाता : बुद्धि के मालिक
४१. चतुर्भुज : चार भुजाओं वाले
४२. देवादेव : सभी भगवान में सर्वोपरी
४३. देवांतकनाशकारी : बुराइयों और असुरों के विनाशक
४४. देवव्रत : सबकी तपस्या स्वीकार करने वाले
४५. देवेन्द्राशिक : सभी देवताओं की रक्षा करने वाले
४६. धार्मिक : दान देने वाला
४७. दूर्जा : अपराजित देव
४८. द्वैमातुर : दो माताओं वाले
४९ . एकदंष्ट्र : एक दांत वाले
५०. ईशानपुत्र : भगवान शिव के बेटे
५१. गदाधर : जिसका हथियार गदा है
५२. गणाध्यक्षिण : सभी पिंडों के नेता
५३. गुणिन : जो सभी गुणों के ज्ञानी
५४. हरिद्र : स्वर्ण के रंग वाला
५५. हेरम्ब : माँ का प्रिय पुत्र
५६. कपिल : पीले भूरे रंग वाला
५७. कवीश : कवियों के स्वामी
५८. कीर्त्ति : यश के स्वामी
५९. कृपाकर : कृपा करने वाले
६०. कृष्णपिंगाश : पीली भूरि आंख वाले
६१. क्षेमंकरी : माफी प्रदान करने वाला
६२. क्षिप्रा : आराधना के योग्य
६३. मनोमय : दिल जीतने वाले
६४. मृत्युंजय : मौत को हरने वाले
६५. मूढ़ाकरम : जिनमें खुशी का वास होता है
६६. मुक्तिदायी : शाश्वत आनंद के दाता
६७. नादप्रतिष्ठित : जिसे संगीत से प्यार हो
६८. नमस्थेतु : सभी बुराइयों और पापों पर विजय प्राप्त करने वाले
६९. नन्दन : भगवान शिव का बेटा
७०. सिद्धांथ : सफलता और उपलब्धियों की गुरु
७१. पीताम्बर : पीले वस्त्र धारण करने वाला
७२. प्रमोद : आनंद
७३. पुरुष : अद्भुत व्यक्तित्व
७४. रक्त : लाल रंग के शरीर वाला
७५. रुद्रप्रिय : भगवान शिव के चहीते
७६. सर्वदेवात्मन : सभी स्वर्गीय प्रसाद के स्वीकर्ता
७७. सर्वसिद्धांत : कौशल और बुद्धि के दाता
७८. सर्वात्मन : ब्रह्मांड की रक्षा करने वाला
७९. ओमकार : ओम के आकार वाला
८०. शशिवर्णम : जिसका रंग चंद्रमा को भाता हो
८१. शुभगुणकानन : जो सभी गुण के गुरु हैं
८२. श्वेता : जो सफेद रंग के रूप में शुद्ध है
८३. सिद्धिप्रिय : इच्छापूर्ति वाले
८४. स्कन्दपूर्वज : भगवान कार्तिकेय के भाई
८५. सुमुख : शुभ मुख वाले
८६. स्वरुप : सौंदर्य के प्रेमी
८७. तरुण : जिसकी कोई आयु न हो
८८. उद्दण्ड : शरारती
८९. उमापुत्र : पार्वती के बेटे
९०. वरगणपति : अवसरों के स्वामी
९१. वरप्रद : इच्छाओं और अवसरों के अनुदाता
९२. वरदविनायक : सफलता के स्वामी
९३. वीरगणपति : वीर प्रभु
९४. विद्यावारिधि : बुद्धि की देव
९५. विघ्नहर : बाधाओं को दूर करने वाले
९६. विघ्नहर्त्ता : बुद्धि की देव
९७. विघ्नविनाशन : बाधाओं का अंत करने वाले
९८. विघ्नराज : सभी बाधाओं के मालिक
९९. विघ्नराजेन्द्र : सभी बाधाओं के भगवान
१००. विघ्नविनाशाय : सभी बाधाओं का नाश करने वाला
१०१. विघ्नेश्वर : सभी बाधाओं के हरने वाले भगवान
१०२. विकट : अत्यंत विशाल
१०३. विनायक : सब का भगवान
१०४. विश्वमुख : ब्रह्मांड के गुरु
१०५. विश्वराजा : संसार के स्वामी
१०६. यज्ञकाय : सभी पवित्र और बलि को स्वीकार करने वाला
१०७. यशस्कर : प्रसिद्धि और भाग्य के स्वामी
१०८. यशस्विन : सबसे प्यारे और लोकप्रिय देव
१०९. योगाधिप : ध्यान के प्रभु

  

कोई टिप्पणी नहीं: