शनिवार, 24 अक्तूबर 2015

laghukatha

लघुकथा:
गाइड
*
मेरे लघुकथा संग्रह की पाण्डुलिपि देखकर परामर्श दीजिए, मैंने अनुरोध किया।
लघुकथा में क्या होना चाहिए उन्होंने पूछा?
लघुता, वैषम्य और मर्मस्पर्शिता मैंने उत्तर दिया।
और क्या नहीं होना चाहिए फिर प्रश्न पूछा गया?
अभिमत, विश्लेषण या उपदेश मैंने संकोच सहित कहा।
आज के लिए इतना पर्याप्त है सुनते ही मैंने विदा ली गाइड से।
***

कोई टिप्पणी नहीं: