गुरुवार, 27 जुलाई 2017

kshanika


क्षणिका
१. सही-गलत
*
साथ हो?
तो सही।
साथ नहीं
तो गलत।
*
२. हम
तू तू
मैं मैं
तू-तू, मैं-मैं
तू मैं
मैं तू
हैं हम।
*
३. आँख
*
पीर तुम्हें तो  सूखी है
पीर मुझे तो गीली है
आँख।
*
४. मोल
*
किसान की फसल?
बेमोल।
सेठ का माल?
अनमोल।
*
५. पोशाक
*
दरिद्र की मज़बूरी
अधनंगा।
रईस का फैशन
अधनंगा।
*
६. आधुनिक
*
वसंतोत्सव मनाया
पिछड़े हो।
वैलेंटाइन सेलिब्रेट करो
आधुनिक बनो।
*
७. बेक़सूर
*
सालों से सम्बन्ध
अब नहीं करता शादी
वह धोखेबाज,
मैं बेक़सूर।
*
८. अबला
*
ये माताजी, वो ससुरी
ये पिताश्री, वे बुढ़ऊ
भाई बेचारा, देवर निखट्टू
बहिन लाडली, ननद दुष्टा
पुरुष शोषक
नारी अबला।
९. लोकतंत्र
*
लोक पर
हावी तंत्र
सच्चा लोकतंत्र।
१०. व्यवस्था
*
शिक्षक अस्थाई
अभियंता अस्थाई
चिकित्सक अस्थाई
अफसर स्थाई
आदर्श व्यवस्था।
११. पेंशन
कर्मचारी
कई साल बाद
पेंशन ले तो भार।
विधायक
एक दिन भी रहे
पेंशन अधिकार।
***
salil.sanjiv@gmail.com
#दिव्यनर्मदा
#हिंदी_ब्लॉगर





कोई टिप्पणी नहीं: