शनिवार, 30 मार्च 2019

एक दोहा

एक दोहा
*
सुन पढ़ सीख सका जिसे, लिखा साल-दर साल।
एक निमिष में पढ़ समझ, सचमुच किया कमाल।।
***
संवस
७९९९५५९६१८

कोई टिप्पणी नहीं: