गुरुवार, 7 फ़रवरी 2019

दोहा

दोहा
*
दो ने दो के साथ मिल, कर चारों को एक। 
सारी दुनिया से कहा, हम जैसे हो नेक।।


कोई टिप्पणी नहीं: