सोमवार, 18 फ़रवरी 2019

चित्रलंकार पर्वत

चित्रालंकार:पर्वत 

गाएंगे
अनवरत
प्रणय गीत
सुर साधकर।
जी पाएंगे दूर हो
प्रिये! तुझे यादकर।

कोई टिप्पणी नहीं: