स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

सोमवार, 4 मार्च 2013

विचित्र किन्तु सत्य : मस्तिष्क कैमरा है?...

विचित्र किन्तु सत्य : 
विजय कौशल  

क्या आपका मस्तिष्क कैमरा है?... क्या यह चित्र का नेगटिव बना सकता है?? 

कहते है: ''हाथ कंगन को आरसी क्या?... पढ़े-लिखे को फारसी क्या??....''

आइए! आजमाइए!!

निम्न चित्र में मुस्कुराती सुन्दरी की नासिका के लाल बिंदु पर ३ सेकेण्ड तक टकटकी लगाकर देखिए. अब आँख बंद कर अपने पास की दीवार या कमरे की छत जिस पर कोइ डिजाइन न हो को आँखें मिचमिचाकर देखें... कहें क्या सुन्दरी की छवि वहाँ नहीं दिख रही है? इसी तरह आप अपने आराध्य या प्रिय की छवि को नयनों में भरकर देख सकते हैं। अब 'विलम्ब कही कारन कीजै?...' हो जाइए शुरू...

 
Your brain develops the Negative...   How does it work ????


I couldn't believe it, definitely didn't  expect to see  what I saw.  (not a trick or a scare)   probably need a laptop or PC. Follow the instructions.

 
0F7C673495184A168E46AE445A5954F9@ownerPC

see the picture in colour on the wall

कोई टिप्पणी नहीं: