शनिवार, 13 जुलाई 2019

हाइकु सलिला

हाइकु सलिला 
*
ध्यान में ध्यान 
ध्यान पर न ध्यान 
तभी हो ध्यान। 
*
मुक्ति की चाह
रोकती है हमेशा
मुक्ति की राह।
*
खुद से ऊब
कैसे पायेगा राह?
खुद में डूब।
*
१३-७-२०१७
salil.sanjiv@gmail.com
#हिंदी_ब्लॉगिंग

कोई टिप्पणी नहीं: