मंगलवार, 30 जुलाई 2019

द्विपदी

​एक द्विपदी
जात मजहब धर्म बोली, चाँद अपनी कह जरा
पुज रहा तू ईद में भी, संग करवा चौथ के. 
****

कोई टिप्पणी नहीं: