कुल पेज दृश्य

सोमवार, 25 नवंबर 2019

सरस्वती, सड़गोड़ासनी, बुंदेली, दादरा


बुंदेली
संजीव
*
छंद - सड़गोड़ासनी।
पद - ३, मात्राएँ - १५-१२-१५।
पहली पंक्ति - ४ मात्राओं के बाद गुरु-लघु अनिवार्य।
गायन - दादरा ताल ६ मात्रा।
*
मैया शारदे! पत रखियो
मोखों सद्बुधि दइयो
मैया शारदे! पत रखियो

जा मन मंदिर मैहरवारी
तुरतइ आन बिरजियो
मैया शारदे! पत रखियो

माया-मोह राच्छस घेरे
झट सें मार भगइयो
मैया शारदे! पत रखियो

अनहद नाद सुनइयो माता!
लागी नींद जगइयो
मैया शारदे! पत रखियो

भासा-आखर-कवित मोय दो
लय-रस-भाव लुटइयो
मैया शारदे! पत रखियो

मात्रा-वर्ण; प्रतीक बिम्ब नव
अलंकार झलकइयो
मैया शारदे! पत रखियो
***
२५-११-२०१९
९४२५१८३२४४

कोई टिप्पणी नहीं: